प्रसिद्ध देव में नहीं लगेगा कार्तिक छठ का मेला ? या कैसे मना पायेंगे छठ पूजा ? जाने पूरी खबर....

  Niraj kumar   2020-11-05 07:59:08 भारत 231
प्रसिद्ध देव में नहीं लगेगा कार्तिक छठ का मेला ? या कैसे मना पायेंगे छठ पूजा ? जाने पूरी खबर....

औरंगाबाद। देश प्रसिद्ध देव में कार्तिक छठ महापर्व के अवसर पर प्रत्येक वर्ष लगने वाला मेला इस वर्ष नहीं लगेगा।

ऐतिहासिक पवित्र सूर्यकुंड में भगवान सूर्य का अ‌र्घ्य भी नहीं पड़ेगा।

दरअसल मामला यह है, की कोविड-19 को लेकर लॉकडाउन में किसी भी धार्मिक स्थल पर मेला अथवा भीड़ लगने पर प्रतिबंध लगाया गया है।

इस प्रतिबंध के कारण देव में कार्तिक छठ मेला पर पाबंदी लगाई गई है। जिले में पुनपुन दुमोहान, देवकुंड समेत और जहां छठ व्रत का मेला लगा करता है।

वहां भी मेला लगने तथा एक जगह एकत्रित होकर धार्मिक अनुष्ठान करने पर पाबंदी  लगा दिया गया है।

कोरोना - काल होने के कारण चैत्र मास में भी देव समेत जिले के अन्य छठ घाटों पर छठ मेला नहीं लगाया गया था।

देव सूर्यकुंड के अलावा जिले के अन्य छठ घाटों पर श्रद्धालु अ‌र्घ्य नहीं दे पाए थे। ठीक वहीं स्थिति कार्तिक छठ मेला में भी रहेगा।

18 नवंबर से शुरू होने वाली चार दिवसीय कार्तिक छठ-व्रती की तैयारी में श्रद्धालु लग गए हैं,

पर श्रद्धालु अपने घरों में ही व्रत का अनुष्ठान करेंगे या कुआं अथवा गांव के जलाशय में 20 नवंबर को डूबते और 21 नवंबर को उगते सूर्य को अ‌र्घ्य प्रदान करेंगे।

शहरी क्षेत्र के श्रद्धालु घरों की छतों पर भगवान सूर्य को अ‌र्घ्य देंगें। देव कार्तिक छठ मेला को लेकर एक माह पहले से जिला एवं पुलिस प्रशासन के द्वारा तैयारी की जाती थी,

पर इस वर्ष के कार्तिक छठ मेला के नहीं लगने से अधिकारी भी चैन से हैं।

देव सूर्यमंदिर न्यास समिति के अध्यक्ष सह एस.डी.एम. डॉ. प्रदीप कुमार ने बताया कि कोविड-19 को लेकर 30 नवंबर तक लॉकडाउन है।

किसी भी धार्मिक स्थल पर मेला लगने के संबंध में केंद्र व राज्य सरकार के द्वारा अबतक कोई निर्देश प्राप्त नहीं हुआ है।

ऐसी स्थिति में देव कार्तिक छठ मेला नहीं लग पाएगी।

कारण की भीड़ में कोविड-19 के गाइड लाइन का पालन नहीं होगा | और कोरोना का संक्रमण बढ़ने का डर बना रहेगा |



Dangi Heritage

Related Post

Leave a Comment: